विद्यार्थियों के लिए सामान्य निर्देश

  • जब कक्षाएं लग रही हो तो विद्यार्थी अनावश्यक रूप से बरामदों में ना घूमें, शोरगुल ना करें।
  • महाविद्यालय आपका अपना है इसलिए इसकी स्वच्छता आदि का पूर्ण ध्यान रखें परिसर में धूम्रपान ना करें साथ ही तंबाकू आदि से दीवारों को गंदा ना करें।
  • छात्र-छात्राओं को यह निर्देश दिया जाता है कि वह महाविद्यालय परिसर की किसी भी दीवार पर या श्यामपट पर चॉक आदि के माध्यम से कुछ भी ना लिखे।
  • विद्यार्थियों को परामर्श दिया जाता है कि वह कॉलेज परिसर अथवा उससे बाहर कोई भी असामाजिक कार्य ना करें।
  • समय की नियमितता एक बड़ा गुण है। उसी निमित्त छात्रों को यथा समय महाविद्यालय में उपस्थित होना चाहिए।
  • विद्यार्थी अपने गुरु जनों के प्रति तथा आपस में शिष्टाचार एवं मर्यादा पूर्वक व्यवहार करें।
  • किसी भी व्यक्ति को प्राचार्य बिना कारण बताए प्रवेश देने से रोक सकते हैं और दिए हुए प्रवेश को रद्द कर सकते हैं।
  • किसी भी छात्र/छात्रा को (चाहे वह लाइसेंस धारक हों ) किसी भी प्रकार का हथियार विद्यालय प्रांगण में लाना वर्जित है।
  • जिन छात्र-छात्राओं की 75% उपस्थिति नहीं होगी उन्हें तत्काल प्रभाव से परीक्षा से वंचित किया जा सकता है। इसीलिए विद्यार्थी पूरी गंभीरता के साथ उपस्थिति प्रतिशत बढ़ाने पर विशेष ध्यान दें।
  • विज्ञान वर्ग के विद्यार्थियों की प्रेक्टिकल की उपस्थिति का ब्यौरा भी विषय वार रखा जाएगा इसका उपयोग प्रैक्टिकल एग्जाम के समय किया जाएगा। इस निमित्त विद्यार्थी क्लासेस में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित रखें ।
  • महाविद्यालय में जमा किया हुआ प्रतिभूत शुल्क के अतिरिक्त कोई भी शुल्क वापस नहीं होगा।
  • विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी विद्यार्थियों के परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन ही भरे जाएंगे। परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन भरने से पूर्व परीक्षा शुल्क बैंक में जमा करने के पश्चात ही ऑनलाइन प्रक्रिया पूर्ण हो सकेगी। परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन करने के बाद उसकी हार्ड कॉपी विद्यार्थी को महाविद्यालय कार्यालय में अनिवार्य रूप से जमा करनी होगी। हार्ड कॉपी जमा ना होने की स्थिति में महाविद्यालय की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी। ऐसे विद्यार्थी आगामी विश्वविद्यालयी परीक्षा में नहीं बैठ सकेंगे।
  • उक्त संबंध में विश्वविद्यालय से यथा समय जारी निर्देश मान्य होंगे। इसकी सूचना यथा समय सूचना पट्ट पर अंकित कर दी जाएगी।
  • विद्यार्थियों से महाविद्यालय द्वारा निर्धारित शुल्क का भुगतान दो किश्तों में लिया जाएगा। जिसकी प्रथम के प्रवेश के समय तथा द्वितीय किश्त परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन भरने एवं छात्रवृत्ति फॉर्म भरने से पूर्व अनिवार्य रूप से जमा की जाएगी। द्वितीय किश्त यथासमय जमा न होने पर विश्वविद्यालय के परीक्षा फॉर्म व् महाविद्यालय द्वारा भेजी जाने वाली छात्रवृत्ति सूची में विद्यार्थी सम्मिलित नहीं हो पाएंगे।
  • विद्यार्थियों को विशेष रूप से सूचित किया जाता है कि वह महाविद्यालय कार्यालय में जमा होने वाले किसी भी शुल्क की रसीद लिपिक से अवश्य प्राप्त कर लें तथा उस रसीद पर अंकित राशि तथा देय राशि का मिलान अवश्य कर लें।
  • पुस्तकालय से देय मुक्ति कराने के उपरांत किसी भी विद्यार्थी को पुस्तकालय से कोई भी पुस्तक आदि नहीं मिलेगी।
  • महाविद्यालय में आने पर विद्यार्थी अनिवार्य रूप से कक्षाओं में उपस्थित रहकर अध्ययन करेंगे अन्यथा की स्थिति में उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।
  • परिचय पत्र छात्र/छात्रा के इस महाविद्यालय के संस्थागत छात्र/छात्रा होने का प्रमाण है, अतः महाविद्यालय की सीमा के भीतर व बाहर सदैव छात्र/छात्रा के पास परिचय पत्र उपलब्ध रहना चाहिए। परिचय पत्र ना होने की अवस्था में विद्यार्थियों को कक्षा में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।
  • परिचय पत्र खो जाने की स्थिति में निकटस्थ थाने में एफ. आई. आर. दर्ज करा कर उसकी प्रति लगाकर द्वितीय प्रति विशेष परिस्थितियों में महाविद्यालय के चीफ प्रॉक्टर को लिखित रूप में सूचित करने व उनके संतुष्ट हो जाने की स्थिति में ही ₹50 भुगतान करने पर प्राप्त की जा सकती है।
  • यदि कोई अभ्यर्थी गलत सूचना प्रस्तुत करने अथवा किसी तथ्य को छुपाने का दोषी पाया जाएगा तो उसका प्रवेश किसी भी समय निरस्त किया जा सकता है।
  • विद्यार्थी को आवश्यकता पड़ने पर महाविद्यालय से चरित्र प्रमाण पत्र एक कक्षा में केवल एक बार ही दिया जाएगा, साथ ही यह प्रमाण पत्र प्रवेश से 6 महीने बाद ही दिया जा सकेगा।

सत्यापन

अपनी अंक तालिका एवं अन्य सर्टिफिकेट के सत्यापन के लिए पहले कार्यालय में संपर्क करें, जहां (Original ) मूल प्रति से मिलान करने तथा कार्यालय द्वारा अग्रसारित करने पर ही प्राचार्य अपने हस्ताक्षर करेंगे।